भारतीय लड़के ने Microsoft के सिस्टम में ढूंढी कमी, कंपनी ने दिए 36 लाख रुपये ईनाम

दुनियां की सबसे बड़ी IT कंपनियों में से एक Microsoft ने चेन्नई स्थित एक Security Researcher को अपने Product में एक कमी ढूंढने के लिए लगभग 36 लाख रुपये इनाम के तौर पर दिए। दरअसल, Microsoft का एक Identity Bounty प्रोग्राम है, जिसके तहत कंपनी उनके सिस्टम में मौजूद किसी कमी का पता लगाने वाले को ईनाम देती है और कुछ ऐसा ही चेन्नई स्थित एक Security Researcher लक्ष्मण मुथैया ने कर दिखाया। लक्ष्मण ने Microsoft की ऑनलाइन सर्विस में एक समस्या का पता लगाया, जिसके रहते कोई Hacker किसी भी माइक्रोसॉफ्ट यूज़र के अकाउंट को उसकी जानकारी के बिना एक्सेस कर सकता था।

इस बात की जानकारी लक्ष्मण ने अपने ब्लॉग The Zero Hack में विस्तार से बताया है। उसका कहना है कि माइक्रोसॉफ्ट के ऑलाइन सर्विस में एक ऐसी समस्या मौजूद थी, जिससे चलते कोई Hacker या कोई भी व्यक्ति आसानी से आपका माइक्रोसॉफ्ट अकाउंट हैक कर सकता था और ये सब कुछ आपकी जानकारी के बिना मुमकिन था। माइक्रोसॉफ्ट को जानकारी दिए जाने के बाद उन्होंने इस समस्या को ठीक कर दिया है और लक्ष्मण को बाउंटी प्रोग्राम के तहत 50,000 डॉलर यानी लगभग 36 लाख रुपये का इनाम भी दिया गया है।

जब कोई भी माइक्रोसॉफ्ट यूजर अपने अकाउंट का पासवर्ड रीसेट करता है, तो वेबसाइट उसे पासवर्ड रीसेट पेज पर ले जाती है। यहां यूजर को अपना मोबाइल नंबर या ईमेल एड्रेस डालना होता है। इसके बाद माइक्रोसॉफ्ट उस व्यक्ति को 7 अंकों का ओटीपी भेजता है और वेरिफिकेशन के लिए यूज़र को इस कोड को पेज पर डालना होता है। अब यदि कोई व्यक्ति या हैकर इन 7 डिजिट के कोड के कॉम्बिनेशन को ब्रूटफोर्स यानि कि एक साथ कई पासवर्ड डालता है, तो वह बिना असली यूजर को पता लगे उसके पासवर्ड को खुद से रीसेट कर सकता है। हालांकि लक्ष्मण ने बताया कि सिस्टम में कुछ सीमाएं सेट हैं, जो उन्हें बड़ी संख्या में अटैक करने से रोकती हैं। इस समस्या का पता लगाने में लक्ष्मण को काफी लंबा समय लगा था।

लक्ष्मण ने आगे बताया कि उसने सिस्टम को बायपास करने का वीडियो रिकॉर्ड किया और Microsoft को भेजा, जिसके तुरंत बाद माइक्रोसॉफ्ट ने इसे ठीक किया और लक्ष्मण को इनाम भी दिया। आपको बता दें कि IT क्षेत्र से जुड़ी अधिकतर कंपनियां इस तरह के Bounty प्रोग्राम चलाती हैं और अक्सर इस तरह की घटनाएं सामने भी आती हैं।

Tags – Ajab Gajab Khabren, अजब गजब खबरें,

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *